राष्ट्रीय पोषण अभियान 30 सितम्बर तक
रायगढ़, 3 सितम्बर 2020/ कलेक्टर श्री भीम सिंह के दिशा-निर्देश में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जिले में पोषण अभियान अंतर्गत राष्ट्रीय पोषण माह का आयोजन 01 सितम्बर से 30 सितम्बर 2020 तक किया जा रहा है।  पोषण अभियान अंतर्गत 01 सितम्बर को जिला स्तर पर पोषण माह की तैयारी हेतु अंतर्विभागीय बैठक एवं आंगनबाड़ी केन्द्र स्तर पर गृह भेंट किया गया। 2 सितम्बर को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के द्वारा गृहभेंट के माध्यम से स्तनपान एवं उपरी आहार के विषय में हितग्राहियों से चर्चा की गई तथा 3 सितम्बर को परियोजना स्तर पर पोषण माह की तैयारी हेतु अंतर्विभागीय बैठक कोविड-19 के समस्त निर्देशों का पालन करते हुये किया गया।

4 सितम्बर को पोषण संबंधित मुद्दों पर खाद्य एवं पोषाहार बोर्ड द्वारा ऑनलाईन प्रशिक्षण (जिसमें जिला कार्यक्रम अधिकारी, परियोजना अधिकारी प्रत्येक परियोजना से 2 पर्यवेक्षक भाग लेंगे), 5 सितम्बर को पर्यवेक्षकों/आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा स्व-सहायता समूह की बैठक प्रथम 1000 दिवस पर चर्चा कोविड-19 के समस्त निर्देशों का पालन करते हुये, 6 सितम्बर को नारा लेखन ग्राम स्तर पर-आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा महत्वपूर्ण पोषण संदेशों पर आधारित नारों का लेखन, 7 सितम्बर को गंभीर कुपोषित बच्चों का चिन्हांकन एवं प्रबंधन पर ऑनलाईन प्रशिक्षण (जिला कार्यक्रम अधिकारी, परियोजना अधिकारी, पर्यवेक्षक एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी प्रशिक्षण में शामिल होंगे), 8 सितम्बर को गृहभेंट एवं परामर्श (कार्यकर्ता द्वारा टी.एच.आर.वितरण के साथ-साथ हितग्राहियों को पोषण संबंधी महत्वपूर्ण बिन्दुओं की जानकारी प्रदाय), 9 सितम्बर को स्कूली छात्रों द्वारा ऑनलाईन सहभागिता (पोषण संबंधी, निबंध, चित्रकारी, स्लोगन, रंगोली आदि), 10 सितम्बर को पोषण वाटिका का निर्माण (आंगनबाड़ी, स्कूल, सामुदायिक भूमि पर पौष्टिक सब्जियों एवं फलदार पौधों का रोपण), 11 सितम्बर को ग्राम एवं शहरी स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण दिवस का आयोजन पोषण माह के थीम के अनुसार गंभीर कुपोषित बच्चों का चिन्हांकन एवं प्रबंधन पर चर्चा, हाथ धुलाई एवं ओआरएस विधि का प्रदर्शन कोविड-19 के समस्त निर्देशों का पालन करते हुये किया जाएगा।

12 सितम्बर को पर्यवेक्षकों/आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा स्व-सहायता समूह की बैठक एनीमिया प्रबंधन विषय पर चर्चा कोविड-19 के समस्त निर्देशों का पालन करते हुये, 13 सितम्बर को घर-घर में पोषण संबंधी रंगोली बनाओ प्रतियोगिता का आयोजन (घर-घर जाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, पंच एवं समूह के सदस्य मिलकर उत्कृष्ट रंगोली का चयन), 14 सितम्बर को पर्यवेक्षक/आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा पोषण संबंधी विषयों पर कृषक समूह की बैठक, 15 सितम्बर को गृहभेंट एवं परामर्श (कार्यकर्ता द्वारा टीएचआर वितरण के साथ-साथ हितग्राहियों को पोषण संबंधी महत्वपूर्ण बिन्दुओं की जानकारी प्रदाय), 16 सितम्बर को पंचायत एवं नगरीय निकाय के प्रतिनिधियों के साथ पोषण संवाद (डिजिटल प्लेटफार्म के माध्यम से पंचायत एवं नगरीय निकाय के प्रतिनिधियों से सीधे संवाद), 17 सितम्बर को पुरूषों द्वारा पौष्टिक व्यंजन तैयार कर डिजिटल माध्यम से प्रदर्शनी एवं व्यंजन की विशेषता के संबंध में टीप का प्रदर्शन, 18 सितम्बर को ग्राम पंचायत एवं नगरीय निकायों की बैठक (पर्यवेक्षक/आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा अपने क्षेत्र की पोषण स्थिति का आंकलन एवं कुपोषण मुक्ति हेतु नियोजन के संबंध में)कोविड-19 के समस्त निर्देशों का पालन करते हुये, 19 सितम्बर को पर्यवेक्षकों/आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा स्व-सहायता समूह की बैठक गर्भावस्था के दौरान गर्भस्थ शिशु के उचित देखभाल एवं पोषण पर चर्चा कोविड-19 के समस्त निर्देशों का पालन करते हुये, 20 सितम्बर  को पर्यवेक्षकों द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का डायरिया प्रबंधक पर ऑनलाईन प्रशिक्षण दिया जायेगा।

21 सितम्बर को पोषण आहार प्रदायकर्ता समूहों को रेडी टू ईट फू ड निर्माण के संबंध में स्वच्छता एवं गुणवत्ता संबंधी प्रशिक्षण परियोजना स्तर पर कोविड-19 के समस्त निर्देशों का पालन करते हुये, 22 सितम्बर को गृहभेंट एवं परामर्श (कार्यकर्ता द्वारा टीएचआर वितरण के साथ-साथ हितग्राहियों को पोषण संबंधी महत्वपूर्ण बिन्दुओं की जानकारी प्रदाय), 23 सितम्बर को कृमि मुक्ति दिवस का शुभारंभ, कृमि गोली वितरण के साथ आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं मितानिनरों द्वारा आवश्यक परामर्श, 24 सितम्बर को पोषण के 5 सूत्रों पर वेबीनार एवं आंगनबाड़ी केन्द्र स्तर पर संयुक्त गृहभेंट एवं परामर्श-गर्भावस्था के अंतिम त्रिमाही, नवजात शिशु एवं कुपोषित बच्चों के घर गृह भेंट एवं पोषण संबंधी संदेश देना, 25 सितम्बर को स्वास्थ्य केन्द्रों पर एनीमिया परीक्षण (किशोरी बालिका, महिला, बच्चों का एनीमिया परीक्षण एवं परामर्श), 26 सितम्बर को पर्यवेक्षकों/आंगनबाड़ी कार्यकर्ता द्वारा स्व-सहायता समूह की बैठक डायरिया प्रबंधन विषय पर चर्चा, 27 सितम्बर को पोषण स्तर का प्रदर्शन-आंगनबाड़ी केन्द्रों में 3 रंगों के (लाल-हरा, पीला)बोर्ड तैयार कर 0 से 5 वर्ष के माता-पिता को अपने बच्चों की फोटो का बच्चे के ग्रेड के आधार पर बोर्ड का प्रदर्शन, 28 सितम्बर को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के द्वारा बच्चों के पोषण स्तर की विडियो क्लीप तैयार कर वाट्सअप के माध्यम से प्रदर्शन, 29 सितम्बर को गृहभेंट एवं परामर्श  (कार्यकर्ता द्वारा टीएचआर वितरण के साथ हितग्राहियों को पोषण संबंधी महत्वपूर्ण बिन्दुओं की जानकारी प्रदाय) तथा 30 सितम्बर को जिला/परियोजना स्तर पर पोषण माह के गतिविधियों की समीक्षा एवं समापन कार्यक्रम होगा।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post