स्वास्थ्य मंत्रालय भारत शासन नई दिल्ली से आई टीम ने किया कोविड-19 हॉस्पिटल का निरीक्षण

 स्वास्थ्य मंत्रालय भारत शासन नई दिल्ली से आई टीम ने किया कोविड-19 हॉस्पिटल का निरीक्षण

स्वास्थ्य मंत्रालय भारत शासन नई दिल्ली से आई टीम ने किया कोविड-19 हॉस्पिटल का निरीक्षण
कोविड-19 हॉस्पिटल में उपलब्ध व्यवस्था की प्रशंसा की
आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने के लिए कहा


राजनांदगांव 09 सितम्बर 2020। स्वास्थ्य मंत्रालय भारत शासन से आए टीम के डिप्टी डायरेक्टर एनसीडीपी नई दिल्ली के डॉ. अनुभव श्रीवास्तव, आईसीएमआर नई दिल्ली के डॉ. अभिनव, सफदरजंग हॉस्पिटल नई दिल्ली की प्रोफेसर डॉ. गीता यादव एवं स्वास्थ्य संचालनालय रायपुर के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. नेतराम बेक ने आज पेण्ड्री स्थित कोविड-19 हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। इस अवसर पर प्रभारी डीन डॉ. अतुल देशकर उपस्थित थे।

डॉ. अजय कोसम ने टीम को जानकारी देते हुए बताया कि मरीजों का एंटीजन टेस्ट में निगेटिव रिपोर्ट आने पर भी लक्षण होने की स्थिति में आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इलाज के लिए आईसीएमआर के स्टेण्डर्ड प्रोटोकॉल का अनुकरण किया जा रहा है। दिल्ली से आई टीम ने कोविड-19 हॉस्पिटल में उपलब्ध व्यवस्था की प्रशंसा की और संतोष जाहिर किया। टीम ने वायरल रिसर्च एण्ड डायग्नोस्टिक लेब्रोटरी का निरीक्षण किया और कोविड-19 सैम्पल टेस्टिंग बढ़ाने के लिए कहा। विभागाध्यक्ष वायरोलॉजी लैब डॉ. विजय अंबादे ने बताया कि अभी प्रतिदिन 450 सैम्पल का परीक्षण किया जा रहा है। लैब टेक्नीशियन की संख्या बढ़ जाने पर 800 तक सैम्पल टेस्टिंग किया जा सकता है। टीम ने हॉस्पिटल में स्टॉफ के बारे में जानकारी ली। डॉक्टर ने जानकारी दी कि स्वीपर की कमी होती है, जिसके लिए स्टॉफ बढ़ाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, हॉस्पिटल अधीक्षक डॉ. प्रदीप बेक, डीपीएम श्री गिरीश कुर्रे, श्री अरविंद चौधरी एवं अन्य डॉक्टर उपस्थित थे।


स्वास्थ्य मंत्रालय भारत शासन नई दिल्ली से आई टीम ने उदयाचल एवं श्री शांति विजय सेवा समिति नि:शुल्क कोविड-19 केयर सेन्टर का निरीक्षण किया
कोरोना से जीतने के लिए सबका सहयोग और योगदान जरूरी
कोविड-19 के मरीजों की नि:शुल्क सेवा कार्य की सराहना की


राजनांदगांव 09 सितम्बर 2020। स्वास्थ्य मंत्रालय भारत शासन से आए टीम के डिप्टी डायरेक्टर एनसीडीपी नई दिल्ली के डॉ. अनुभव श्रीवास्तव, आईसीएमआर नई दिल्ली के डॉ. अभिनव, सफदरजंग हॉस्पिटल नई दिल्ली की प्रोफेसर डॉ. गीता यादव एवं स्वास्थ्य संचालनालय रायपुर के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. नेतराम बेक ने आज उदयाचल एवं श्री शांति विजय सेवा समिति नि:शुल्क कोविड-19 केयर सेन्टर का निरीक्षण किया। टीम के सदस्यों ने कहा कि कोरोना की लड़ाई किसी एक की लड़ाई नहीं है इस महामारी से जीतने के लिए सभी का सहयोग और योगदान जरूरी है। उन्होंने संस्थान द्वारा कोविड-19 के मरीजों की नि:शुल्क सेवा के नेक कार्य की सराहना की। सदस्यों ने कहा कि बायोमेडिकल वेस्ट डिस्पोज करते समय सावधानी बरते ताकि लोगों में न फैले। कोविड-19 के इलाज के लिए जारी दिशा-निर्देश के अनुरूप कार्य करें। कोविड-19 के मरीजों की निरंतर मॉनिटरिंग करते रहे।


उदयाचल के सदस्य श्री भावेश बैद ने बताया कि कोविड-19 के मरीजों की मॉनिटरिंग करने के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है और माइक के माध्यम से उनके स्वास्थ्य की निरंतर जानकारी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि 87 बेड के इस सेन्टर के सभी कक्ष में एसी उपलब्ध है और मरीजों के इलाज तथा नि:शुल्क भोजन की व्यवस्था की गई है। कक्ष में टीवी की व्यवस्था भी की गई है। सेन्टर को निरंतर सेनेटाईज किया जा रहा है। ऑक्सीमीटर, थर्मामीटर, बीपी मशीन, स्टीमर एवं गरम पानी की व्यवस्था की गई है। मरीजों को वेपोराइजर मशीन एवं थर्मामीटर नि:शुल्क प्रदान की जाएगी। संस्थान के किचन में ही भोजन बनाने की व्यवस्था की गई है। हर बेड के साथ में मेडिकल चार्ट एवं दवाईयों की किट रहेगी। उन्होंने बताया कि मेडिकल चार्ट में मरीज स्वयं अपनी स्वास्थ्य संबंधी जानकारी भरेंगे। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, डीपीएम श्री गिरीश कुर्रे एवं संस्थान के सदस्य उपस्थित थे।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post