सीईओ जिला पंचायत द्वारा जनपद पंचायत राजनांदगांव, खैरागढ़ एवं छुईखदान के ग्राम पंचायतों का आकस्मिक निरीक्षण सामुदायिक बाड़ी विकास योजना के तहत सब्जियों का उत्पादन करने के निर्देश

 सीईओ जिला पंचायत द्वारा जनपद पंचायत राजनांदगांव, खैरागढ़ एवं छुईखदान के ग्राम पंचायतों का आकस्मिक निरीक्षण सामुदायिक बाड़ी विकास योजना के तहत सब्जियों का उत्पादन करने के निर्देश

राजनांदगांव – जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती तनुजा सलाम ने जनपद पंचायत राजनांदगांव, खैरागढ़ एवं छुईखदान के ग्राम पंचायतों का आकस्मिक दौरा किया। इस दौरान उन्होंने गांव के गौठान, बाड़ी, चारागाह, वृक्षारोपण, वर्मी टांका एवं आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया।
जिला पंचायत सीईओ ने जनपद पंचायत राजनांदगांव के ग्राम पंचायत पदुमतरा एवं डोमाटोला के गौठानों का निरीक्षण किया। निरीक्षण में पदुमतरा के गौठान अंतर्गत पशुओं के पानी पीने के लिए बने कोटना में नियमित पानी भराई करने, गोधन योजना अंतर्गत खरीदे किए जा रहे गोबर को 15 दिवस पूर्ण करते ही वर्मी किट में डालने के निर्देश दिए। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को गौठान में गोबर से कम्पोस्ट खाद निर्माण की प्रक्रिया की नियमित मॉनिटरिंग करते रहने के निर्देश दिए। खैरागढ़ ब्लॉक के ग्राम बलदेवपुर गौठान का निरीक्षण के दौरान वृक्षारोपण के कार्यों को जल्द से जल्द पूर्ण करने को कहा। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को वन विभाग एवं स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा वर्मी कम्पोस्ट निर्माण में आ रही समस्याओं को तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए।
श्रीमती तनुजा सलाम ने जनपद पंचायत छुईखदान अंतर्गत ग्राम पंचायत पद्मावतीपुर एवं कोडारबन का निरीक्षण किया। इस दौरान पद्मावतीपुर सरपंच एवं स्व-सहायता समूह के सदस्यों के द्वारा निर्मित सामुदायिक बाड़ी का मुआयना किया। सीईओ जिला पंचायत ने बाड़ी में लगाए गए भिंडी के पौधों में लगे कीट पर ध्यान देते हुए मौके पर उपस्थित उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को तत्काल कीटनाशक छिड़काव कराने के निर्देश दिए। स्व-सहायता समूह की महिलाओं से चर्चा के दौरान जानकारी दी कि सामुदायिक बाड़ी योजना के माध्यम से पूरे कोरोना काल में उन्हें सब्जियों का उत्पादन मिलता रहा एवं उनके द्वारा अपने घर उपयोग के साथ-साथ बाजार में विक्रय के लिए भी सब्जियां मिल रही हैं।
गौठान में उपस्थित जनप्रतिनिधियों को श्रीमती तनुजा सलाम ने गौठान को मल्टीएक्टिविटी सेंटर के रूप में तैयार किए जाने के लिए अपना-अपना सुझाव एवं सहयोग देने का आग्रह किया। उन्होंने आसपास के बाजार में विक्रय योग्य सामग्री निर्मित करने के लिए स्व-सहायता समूह का चयन करने एवं सामग्री उत्पादन के लिए तैयारियां पूर्ण कर आवश्यक सहयोग करने स्थानीय अधिकारियों को निर्देश भी किया। इस दौरान जनपद पंचायत छुईखदान के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री प्रकाश चंद्र तारम, कृषि विभाग के अधिकारी श्री टीकम सिंह राजपूत, सहायक परियोजना अधिकारी राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन श्री प्रदीप कुमार सहारे, सहायक परियोजना अधिकारी मनरेगा श्री फैज मेंमन, कार्यक्रम अधिकारी मनरेगा श्री सिद्धार्थ जायसवाल, करारोपण अधिकारी श्री मोहितराम धु्रव, एडीईओ श्री रविसिंह सोनवानी, बीपीएम-एनआरएलएम श्री नरेश कोमरे, उद्यानिकी विभाग से लीना कोठारी एवं तकनीकी सहायक तथा अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे ।

Manharan Banjare

Manharan Banjare

Reporter

Related post