सरपंचों के मानदेय राशि बढ़ाने का संख नाद हुआ लोरमी- मुंगेली से…

 सरपंचों के मानदेय राशि बढ़ाने का संख नाद हुआ लोरमी- मुंगेली से…

हरजीत भास्कर-मुंगेली लोरमी// सरपंच संघ अध्यक्ष रामनिवास फौजी की अध्यक्षता में 12/9/20 को सीता पैलेस में 120 सरपंचों की उपस्थिति में बैठक आहूत किया गया जिसमें सभी सरपंचों ने एक स्वर में अपनी मानदेय राशि 2000 से बढ़ा कर 15000 और साथ में महंगाई, वाहन, सफर, स्टेशनरी भत्ता के रूप में 5000 देने की मांग रखे । वहीं अध्यक्ष फौजी ने सरपंचों के मानदेय राशि बढ़ाने का समर्थन करते हुए वर्तमान में सरपंचों की दयनीय स्थिति से अवगत कराते हुए कहा कि आज ऐसे भी सरपंच हैं जिनको अपना घर परिवार चलाना मुश्किल हो रहा है क्योंकि लोक प्रियता या आरक्षण से मजदूर वर्ग के भाई बहन सरपंच बन गए हैं और ओ अब अपने कर्तव्य निभाने अपने जनता के सेवा में गांव के विकास के लिए हमेशा जनपद पंचायत, व जिला पंचायत जाना पड़ता है इस वजह से वह मजदूर वर्ग के सरपंच जो किसानी, मजदूरी कर अपने परिवर चलता हैं। वह मजदूरी भी नहीं कर सकता और 2000 की मानदेय राशि में क्या उनके परिवार का गुजर बसर हो सकता है और अगर सरपंच मजदूरी भी करता है तो उसका पद के गरिमा का भी सवाल है जनता का भी अनेकों कार्य बाधित होगा । अतः स्तरीय पंचायतीराज व्यवस्था के तीनों स्तर जिला पंचायत, जनपद पंचायत, और ग्राम पंचायत के सभी जनप्रतिनिधियों के मानदेय राशि बढ़ाने की बात अध्यक्ष फौजी ने किया।
सभा में विशिष्ट अतिथि जवाहर साहू , नंदकुमार वैष्णो और मुख्य अतिथि माननीय छाया विधायक सोनू चंद्राकर ने सरपंच सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वास्तव में तीनों स्तर का मानदेय बढ़ना चाहिए और मै मुंगेली जिला के सभी सरपंच अध्यक्षों के साथ अपने मांग रखने माननीय मुख्य मंत्री जी से मिलने की बात कहा। मुख्य अतिथि जी ने सभी समस्याओं का निदान करने का आश्वासन देते हुए कहा कि किसी भी प्रकार का समस्या होती है तो मुझे फोन से अवगत कराएं ।
सभा में उपस्थित संघ के संरक्षक रामजी साहू ने सरपंचों को हो रहे कई तरह की समस्या जैसे डी एस सी भुक्तान, नरेगा का राशि 6-7 माह तक नहीं मिलना जिससे पंचायत के विकाश रुक सा गया है और सरपंचों को ब्याज से पैसे लेकर निर्माण कार्य करना पड़ रहा है जिससे सरपंच काफी परेशान है जैसे अन्य विषय से अवगत कराया, सभा में उपस्थित संघ उपाध्यक्ष महंत जी, संजीव शर्मा , रामशरण खंडे, रामचरण यादव, कृष्णा यादव, संतोष जायसवाल, प्रवक्ता पटेल,बलवंत सिंह, सत्यवती, टोसान साहू, ललिता राजपूत, निराशा बाई ,नोहर सिंह, रामसेवक चंद्राकर, सहित ये सभी सरपंचों ने अपनी बात बड़े ही सहजता पूर्वक रखे। अंत में मुख्य अतिथि ने सभा के सभी मांगों को लेकर उत्साहित भाव से पूर्ण विश्वास दिलाया ।
अब देखने वाली ये बात है कि लोरमी क्षेत्र के सरपंचों का मांग कहां तक सफल होता है।
सरपंच संघ लोरमी के पदाधकारियों ने राज्य के सभी जिलों के सरपंच भाइयों से ये आह्वान किया कि सभी आगे आए और हर जगह से सरपंचों व पंचों की मानदेय राशि बढ़ाने की मांग सरकार के पास रखें ।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post