शासन की निगरानी में जंगलों पर अवैध कब्जा दिनों दिन बढ़ता हुवा

 शासन की निगरानी में जंगलों पर अवैध कब्जा दिनों दिन बढ़ता हुवा

चंद्रकुमार कोसरे की रिपोर्ट 

जंगल मे अवैध कब्जा

शासन ने हरे भरे वृक्षों को बचाने के लिये न जाने कितने ही जतन कर रहे हैं फिर भी जंगलों में अवैध कब्जा दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है, लोग पट्टा पाने की लालच में इस तरह के कार्य को अंजाम दे रहे हैं। लेकिन एक बात तो तय है कि वन अमला होने के बावजूद इस तरह का अवैध कब्जा कही न कही विभाग की लापरवाही व निष्क्रियता को बयां करती है।

खैरागढ़ वन मण्डल के गंडई सर्किल अंतर्गत ग्राम मुंढाटोला में लगभग सौ एकड़ जंगल को काटकर ग्रामीणों ने अवैध कब्जा कर लिया गया है। लोग काबिज़ जमीन में खेती का कार्य भी रहने लगे ताकि उनको सरकार से पट्टा जारी हो सके। ग्रामीणों ने जमीन में कोदो, और बबूल की खेती कर रहे हैं। ऐसा नही है कि जंगल को घेरने वाले कोई भूमिहीन किसान हो जबकि जिनके पास पहले से ही जमीन है वे लोग भी जंगल मे अवैध कब्जा किये हुए है।
एक वन परिक्षेत्र में लगभग सौ एकड़ तक जंगल में अवैध कब्ज़ा करना वन विभाग की कमजोरी या उदासीनता कह सकते हैं। इतने सारे जंगल की कटाई होते तक वन अमला क्या कर रहे थे, उनके द्वारा कार्यवाही क्यों नही किया गया? अपने आपमे सवाल खड़ी करता है। अब विभाग अपनी लापरवाही व निष्क्रियता को छुपाने के लिए अतिक्रमण भूमि पर तार से घेराबंदी कर आवर्ती चराई योजना के तहत कार्य कराने का हवाला दिया जा रहा है।

 

चंद्रकुमार कोसरे की रिपोर्ट 

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post