रायगढ़:कोरोना की पहचान के लिए रायगढ़ जिले में चलेगा “डोर टू डोर”अभियान

 रायगढ़:कोरोना की पहचान के लिए रायगढ़ जिले में चलेगा “डोर टू डोर”अभियान

कोरोना लक्षण व हाईरिस्क वाले लोग सामने आकर कराएँ जांच तभी सफल होगा कोरोना सर्वे अभियान- कलेक्टर भीमसिंह

कोरोना की पहचान के लिए रायगढ़ जिले में पांच अक्टूबर से चलेगा डोर टू डोर सर्वे
मोहन नायक,रायगढ़ की रिपोर्ट
         रायगढ़। कोरोना संक्रमण के चैन को तोड़ने पुरे  प्रदेश में कोरोना सामुदायिक सघन सर्वे शुरू किया गया है। 05 से 12 अक्टूबर तक स्वास्थ्य विभाग की टीम पुरे जिले में अभियान के तहत शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में डोर टू डोर सर्वे करेगी। कलेक्टर श्री भीम ने जिले वासियों से अपील की है कि ऐसे व्यक्ति जिन्हें कोरोना के लक्षण जैसे सर्दी, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, शरीर में दर्द, दस्त तथा उल्टी होना, सूंघने अथवा हस होना आदि है या किसी गंभीर बीमारी जैसे कैंसर तथा किडनी रोग, टीबी, सिकलसेल, एड्स, उच्च रक्तचाप व डायबिटिज से ग्रसित व्यक्ति विशेषकर 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति, गर्भवती महिला, 5 वर्ष से कम आयु के बच्चे अनिवार्य रूप से सर्वे टीम को अपनी जानकारी देकर जांच करवाएं तथा समय से उपचार प्राप्त करें। अपने स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही न दिखाएँ और लक्षणों को हलके में ना लें, क्योंकि इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।
उन्होंने आगे कहा कि अभियान का उद्देश्य मरीजों की जल्दी पहचान कर उन्हें गंभीर स्थिति में जाने से पहले इलाज मुहैय्या कराना व संक्रमण को आगे फैलने से रोकना है। कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान में चिकित्सा विभाग के साथ संबंधित क्षेत्र की मितानिन, आगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिका पंचायत एवं ग्रामीण व नगरीय विकास के मैदानी अमले की संयुक्त टीम घर-घर जाकर लोगों का सर्वे करेगी।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post