रायगढ़:मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के क्रियान्वयन में लायें तेजी-कलेक्टर

 रायगढ़:मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के क्रियान्वयन में लायें तेजी-कलेक्टर

मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के क्रियान्वयन में लायें तेजी-कलेक्टर श्री भीम सिंह
कलेक्टर श्री सिंह ने महिला बाल विकास विभाग की ली समीक्षा बैठक

रायगढ़, 3 अक्टूबर 2020/ कलेक्टर श्री भीम सिंह ने महिला बाल विकास विभाग की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक लेकर गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इस विभाग का कार्य अत्यंत संवेदनशील है। यह बच्चों व महिलाओं के सुपोषण व उनके शारीरिक मानसिक विकास से जुड़ा है। जो जीवन का सम्पूर्ण आधार होता है। अत: सारे कार्य पूरी गंभीरता व सेवा भावना से किया जाना चाहिए।
कलेक्टर श्री सिंह ने मुख्यमंत्री सुपोषण योजना की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने विकासखंडवार सेक्टरों में पिछले महीनों कुपोषण की दर की जानकारी ली। योजना की प्रगति को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुये सारंगढ़ सीडीपीओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होंने वजन त्यौहार के तर्ज पर कोरोना प्रोटोकाल के साथ बच्चों का वजन लेकर कुपोषित बच्चों की पहचान करने के निर्देश दिये। जिन सेक्टरों में कुपोषण की दर अधिक हैं वहां विशेष रूप से प्राथमिकता के साथ करने के निर्देश दिये। उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्रों में अण्डा वितरण के तहत अण्डे खाने व नहीं खाने वाले बच्चों की जानकारी के अनुसार व्यवस्था करने के निर्देश दिये। प्रत्येक गांव में पोषण समूहों का चिन्हांकन कर उसकी ऑनलाईन टे्रनिंग करवाने के लिये भी कहा। इसमें बिहान की महिला स्व-सहायता समूहों को भी साथ जोडऩे के निर्देश दिये।
एनआरसी के तहत लगाए जाने वाले बाल संदर्भ शिविर में जाकर बच्चों की जांच करने वाले चिकित्सकों की कार्यशाला आयोजित करने के लिये कहा। जिसमें चिकित्सक आईसीडीएस तथा एनआरसी के गाइडलाइन्स के अनुसार कुपोषित बच्चों की पहचान करें तथा उन बच्चों को स्वास्थ्य लाभ के लिये एनआरसी केन्द्रों में भर्ती किया जाये। उन्होंने एनआरसी केन्द्र में भर्ती कराये गये बच्चों की जानकारी ली तथा केन्द्रों बच्चों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिये।


कलेक्टर श्री सिंह ने रेडी टू ईट निर्माण करने वाली समूहों तथा अन्य लंबित भुगतानों को शीघ्र करने के लिये निर्देशित किया। आंगनबाड़ी केन्द्रों की पोषण वाटिका में रोपित मुनगा के पौधों की जानकारी प्रस्तुत करने के लिये कहा। उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्रों में निर्मित शौचालयों की जानकारी ली तथा जिन स्थानों पर निर्माण कार्य अपूर्ण है उसे शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने सेनेटरी नेपकिन वितरण तथा उसकी उपयोगिता के संबंध में ग्रामीण क्षेत्रों में सर्वे करवाने के निर्देश भी दिये।
इस दौरान सीईओ जिला पंचायत सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी, डीपीओ श्री टिकवेन्द्र जाटवर सहित जिले के समस्त विकासखण्डों के सीडीपीओ उपस्थित रहे।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post