राजनांदगांव: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत शासन के संयुक्त सचिव के दल ने जिले में कोविड-19 की रोकथाम एवं कोरोना मरीजों के प्रबंधन उपायों की सराहना की

 राजनांदगांव: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत शासन के संयुक्त सचिव के दल ने जिले में कोविड-19 की रोकथाम एवं कोरोना मरीजों के प्रबंधन उपायों की सराहना की

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत शासन के संयुक्त सचिव के दल ने जिले में कोविड-19 की रोकथाम एवं कोरोना मरीजों के प्रबंधन उपायों की सराहना की
कोविड-19 हॉस्पिटल एवं कोविड केयर सेंटर का किया निरीक्षण
होम आइसोलेशन के मरीजों से बातचीत कर ली जानकारी
मितानिनों के समर्पित कार्यों एवं हाजिर जवाबी की प्रशंसा की


राजनांदगांव 23 अक्टूबर 2020। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत शासन के संयुक्त सचिव के दल ने कोविड-19 अंतर्गत राजनांदगांव जिले में कोरोना के रोकथाम के कार्यों एवं कोरोना मरीजों के प्रबंधन उपायों का निरीक्षण किया।
राजनांदगांव जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के बढ़ते संख्या को ध्यान में रखकर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार की संयुक्त सचिव वरिष्ठ आईएएस अधिकारी श्रीमती ऋचा शर्मा के नेतृत्व में तीन सदस्यीय दल ने जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के उपचार और प्रबंधन की व्यवस्था देखने जिले के भ्रमण पर थी। दल ने जिले में कोविड-19 की रोकथाम एवं कोरोना मरीजों के प्रबंधन उपायों की सराहना की।
भारत शासन के दल ने ग्राम टेड़ेसरा में कोविड-19 के कॉल सेंटर का भ्रमण कर कोरोना पॉजीटिव मरीजों को कॉल सेंटर से किस तरह से कॉल किया जा रहा है और क्या जानकारी दी जा रही है। उक्त संबंध में अवलोकन कर कॉल करने वाले कर्मचारियों से चर्चा कर जानकारी ली एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना पॉजिटिव मरीजों को दी जा रही त्वरित जानकारी की सराहना की। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री गिरीश कुर्रे ने जिले में कोविड-19 के तहत कोरोना के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम तथा पॉजिटिव मरीजों के उपचार व प्रबंधन के संबंध में जिले में किये जा रहे कार्यों के संबंध में प्रस्तुतिकरण दिया एवं दल के सदस्यों के जिज्ञासाओं पर आवश्यक जानकारियों से अवगत कराया।


इसके उपरांत दल नें सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोमनी में संचालित कोविड केयर सेंटर का अवलोकन किया और भर्ती मरीजों से बात की और मिल रहे स्वास्थ्य सेवाओं के विषय में जानकारी ली। भारत सरकार दल के दल नें उदयाचल में गैर शासकीय संस्थाओं के सहयोग से संचालित कोविड केयर सेंटर एवं गांधी सभागृह में संचालित सैम्पल संग्रहण केन्द्र का भी अवलोकन कर मरीजों एवं कार्यरत कर्मचारियों से बात की और मिल रही सेवाओं की गुणवत्ता की प्रशंसा की।
भारत सरकार के दल ने पेन्ड्री स्थित डेडीकेटेड कोविड अस्पताल मेडीकल कॉलेज का भ्रमण कर आरटीपीसीआर लैब अवलोकन किया एवं तत्पश्चात अस्पताल में संचालित कोविड सेवाओं का  जायजा लिया व भर्ती मरीजों और कार्यरत चिकित्सकों एवं नर्सिंग स्टॉफ से चर्चा कर स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदाय की जा रही सेवाओं के सबंध में जानकारी ली एवं अन्य आवश्यकताओं के विषय में पूछताछ की। कोविड मरीजों को प्रोटोकॉल का पालन करते हुये मेडिकल कॉलेज में दी जा रही सेवाओं से मरीजों की संतुष्टि देखकर दल के सदस्यों ने अपनी खुशी जाहिर की ।
दल के सदस्यों ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी के साथ स्थानीय दिग्विजय स्टेडियम में होम आईसोलेशन मरीजों हेतु संचालित जिला स्तरीय कंट्रोल रूम एवं रात्रिकालीन सैम्पल संग्रहण केन्द्र का मुआयना किया और मरीजों से दूरभाष पर बात करने वाले चिकित्सकों से चर्चा कर पूरी प्रक्रिया से अवगत हुए। तत्पश्चात दल के सदस्यों ने तुलसीपुर में मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य मोबाईल मेडिकल यूनिट के माध्यम से स्वास्थ्य शिविर एवं सैम्पल संग्रहण कार्य का अवलोकन किया और सैम्पल संग्रहण कार्य में लगे कर्मचारियों से किये जा रहे कार्यों और समस्याओं के संबंध में जानकारी ली तथा तुलसीपुर में मितानिनों द्वारा किये जा रहे सामुदायिक सर्वे कार्य को देखा व मितानिन द्वारा किस तरह से सर्वे में प्रश्न पूछे जा रहे है और किस तरह से जानकारी संकलित कर लेख किया जा रहा है का अवलोकन किया और मितानिनों द्वारा समर्पण भाव से किये जा रहे कार्य और उनकी हाजिर जवाबी देखकर खुशी जाहिर की। दल के सदस्यों ने तुलसीपुर में होम आईसोलेशन पर उपचारित हो रहे दो मरीजों के घर जाकर भी मरीजों से चर्चा की एवं उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेते हुये पूछा कि उपचार हेतु स्वास्थ्य विभाग से किस तरह का सहयोग मिल रहा है। इस पर होमआईशोलेशन पर उपचाररत मरीज लव कुमार देवांगन एवं नूतन देवांगन ने दल को बताया कि उन्हे स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों का नियमित कॉल आता है और स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली जाती है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा उन्हें त्वरित दवा भी उपलब्ध करा दी गयी थी एवं दवा खाने के संबंध में विस्तार से लिखकर भी जानकारी दी गयी थी और वे रोज समय-समय पर ऑक्सीजन सेचुरेशन लेवल, बीपी शुगर की भी नियमित जांच कर विभाग द्वारा दिये पत्रक में दर्ज भी करते हैं और चिकित्सक को अवगत भी कराते हैं। जिस पर दल के सदस्यों ने जमीनी स्तर पर होमआईशोलेशन के मरीजों के उपचार के लिये स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की प्रशंसा की।
भारत सरकार के दल के आज के भ्रमण में डॉ. सुनील गिट्टे एवं भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के डॉ. रंगनाथन व राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन श्री आनंद साहू, एडीएम श्री सी एल मारकन्डेय, एसडीएम श्री मुकेश रावटे, नगर निगम आयुक्त श्री चंद्रकांत कौशिक, डीन डॉ. रेणुका गहने, मेडिकल कॉलेज के हॉस्पीटल सुपरिटेन्डेंट डॉ. बेक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री गिरीश कुर्रे, कार्यक्रम अधिकारी डॉ. अल्पना लूनिया, डॉ. बी एल कुमरे, सीटी प्रोग्राम मैनेजर सुश्री अनामिका विश्वास, एपीडियोलॉजिस्ट सुश्री प्रेरणा सहगल, मेडिकल कॉलेज के अस्पताल प्रबंधक अविन चौधरी, डॉ. सोनिका त्रिपाठी, डॉ. स्नेहा, साहिल मसीह, डॉ. प्रणय शुक्ला, अखिलेश नारायण सिंह, विकास राठौर, दिनेश ताडिया, थामेश वर्मा आदि अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post