राजनांदगांव: ‘पढऩा लिखना अभियानÓ के तहत स्वयंसेवी भाव से सेवा के लिए साक्षरता में सहयोग हेतु प्रस्ताव आमंत्रित

 राजनांदगांव: ‘पढऩा लिखना अभियानÓ के तहत स्वयंसेवी भाव से सेवा के लिए साक्षरता में सहयोग हेतु प्रस्ताव आमंत्रित

‘पढऩा लिखना अभियानÓ के तहत स्वयंसेवी भाव से सेवा के लिए साक्षरता में सहयोग हेतु प्रस्ताव आमंत्रित
राजनांदगांव 26 अक्टूबर 2020। केन्द्र प्रवर्तित  ‘पढऩा लिखना अभियानÓ इस वर्ष से स्वीकृत किया गया है। जिसमें प्रदेश के 15 वर्ष से अधिक आयु के असाक्षरों को बुनियादी साक्षरता प्रदान किया जाना है। यह कार्य जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण (जिला लोक शिक्षा समिति) के माध्यम सेे जिले में क्रियान्वित किया जाएगा। असाक्षरों को पढ़ाने वाले अनुदेशकों को स्वयंसेवी भावना से नि:शुल्क पढ़ाया जाना है। इस अभियान में नीति आयोग द्वारा निर्धारित आकांक्षी जिलों राष्ट्रीय व राज्य के औसत साक्षरता वाले जिलों महिला, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अल्पसंख्यकों को प्राथमिकता प्रदान किया गया है। जिले में भी यह कार्यक्रम संचालित किया जाना है।
पढऩा लिखना अभियान के मार्गदर्शिका के अनुसार इस अभियान में सिविल सोसायटी, गैर सरकारी संगठन, कार्पोरेट सोशल सेक्टर जिन्हे साक्षरता परियोजना में कार्य करने का अनुभव हो उनका भी इस कार्य में सहयोग लिया जा सकता है। यह कार्य पूर्णत: नि:शुल्क होगा। असाक्षरों को साक्षर करने के इस कार्य में स्वयंसेवी भावना रखने वाले सेवाभावी अशासकीय संगठन, सिविल सोसायटी एवं कार्पोरेट सेक्टर जो इसमें सहयोग प्रदान करना चाहें वे अपनी सहमति प्रदान करते हुए कार्यक्षेत्र से अवगत कराना होगा। इसके लिए जिला परियोजना अधिकारी जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण (जिला लोक शिक्षा समिति) कार्यलय जिला लोक शिक्षा समिति कलेक्टोरेट प्रथम तल कक्ष क्रमांक 108 जिला परियोजना अधिकारी से संपर्क कर अपने कार्यक्षेत्र से अवगत करा सकते हैं।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post