यूरिया की कालाबाजारी की शिकायत पर कड़ी कार्यवाही करें: खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत

 यूरिया की कालाबाजारी की शिकायत पर  कड़ी कार्यवाही करें: खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत

 

मंत्री ने किया निजी उर्वरक विक्रेता संस्थानों और सहकारी समितियों का औचक निरीक्षण

 

 

अम्बिकापुर // खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण तथा संस्कृति मंत्री श्री अृमरजीत भगत ने 22 अगस्त को अंबिकापुर स्थित विभिन्न निजी उर्वरक विक्रेता संस्थानों तथा सहकारी समितियों का औचक निरीक्षण कर रासायनिक उर्वरकों के भण्डारण एवं वितरण की स्थिति का जायजा लिया। मंत्री श्री भगत ने निरीक्षण के दौरान कृषि विभाग एवं जिला सहकारी बैंक के अधिकारियों को किसानों को हर हाल में रासायनिक उर्वरक विशेषकर यूरिया की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस साल बीते वर्ष की तुलना में अधिक मात्रा में रासायनिक उर्वरक विशेषकर यूरिया का भण्डारण हुआ है। इसके बावजूद भी किसानों को यूरिया के लिए परेशानी उठानी पड़ रही है यह स्थिति ठीक नहीं है। उन्होंने किसानों को उनकी जरूरत के अनुसार सहकारी समितियों से यूरिया खाद उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यदि किसी समिति में यूरिया उपलब्ध नहीं है तो आस-पास की सोसायटियों से मंगाकर किसानों को उपलब्ध कराया जाना चाहिए। उन्होंने यूरिया खाद की कालाबाजारी की शिकायत पर कड़ी कार्यवाही के निर्देश दिए

मंत्री श्री भगत ने भारतमाता चौक के पास विजय ट्रेडिंग, प्राथमिक तिलहन उत्पादक सहकारी समिति तथा आदिम जाति सेवा सहकारी समिति नमनाकला का निरीक्षण कर भण्डारण एवं वितरण की जानकारी ली। उन्होंने निजी उर्वरक विक्रेताओं से खाद क्रय करने वाले किसानों से भी चर्चा की। इस मौके पर उप संचालक कृषि को बिना क्रेडिट कार्ड धारी किसानों को खाद लेने में हो रही दिक्कत का भी समाधान करने के निर्देश दिए गए। किसानों का क्रेडिट कार्ड तत्काल बनवाने के भी निर्देश दिए गए। यहां यह उल्लेखनीय है कि सरगुजा जिले के सहकारी समितियों में अब तक 96 हजार 790 क्विंटल यूरिया का भण्डारण कर 51 हजार 537 क्विंटल का वितरण किया गया। समितियों में 5 हजार 253 क्विंटल यूरिया शेष हैं। निरीक्षण के दौरान छत्तीसगढ़ खाद्य आयोग के अध्यक्ष श्री गुरप्रीत सिंह बाबरा सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी मौजूद थे।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post