बरमकेला:कोरोना पॉजिटिव होकर भी शिक्षक नियमित रूप से बच्चों की पढ़ाई का रखा ख्याल दूसरो के लिए प्रेरणा

 बरमकेला:कोरोना पॉजिटिव होकर भी शिक्षक नियमित रूप से बच्चों की पढ़ाई का रखा ख्याल दूसरो के लिए  प्रेरणा

कोरोना पोज़िटिव आने के बाद भी शिक्षक ने बच्चो की पढ़ाई रखा जारी,दूसरे शिक्षकों के लिए बने प्रेरणा

बरमकेला।विकासखंड बरमकेला अंतर्गत संकुल बरमकेला के प्रा.शाला नयापारा के शिक्षक नंदकिशोर पटेल का कोरोना रिपोर्ट 4 अक्टूबर को पॉजिटिव आया तब से वे तत्काल ,स्वाथ्य विभाग को सुचना देकर स्वयं को समाज व घर से अलग होम आईसुलेट कर लिए तथा समय का सदुपयोग करने के लिए इस कोरोना के महामारी में हिम्मत न हारते हुए स्कुल शिक्षा विभाग द्वारा संचालित “पढाई तुंहर द्वार” ऑनलाइन क्लास कार्यक्रम निरंतर जारी रखते हुए शिक्षक वर्ग तथा बच्चो के हित में एक अच्छा सन्देश दिया है जिसके लिए लोग उनके जल्द स्वस्थ की कामना कर रहे है,क्योकि कोरोना के समय कई ऐसे भी शिक्षक है जो नियमित रूप से बच्चो को पढ़ाई कराने के बजाय कोई न कोई बहाना करते या अपने उच्चाधिकारियों को दिखाने खानापूर्ति करते नजर आएंगे मगर कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी नंदकिशोर ने अपनी जिम्मेदारी का अहसास करते हुए ईमानदारी पूर्वक अपने छात्रो के हित में नियमित रूप से पढ़ाई कराने में लगे हुए है।जिससे बहानेबाजी करने वाले शिक्षकों को आत्ममंथन करने एवं प्रेरणा लेने की जरूरत है।इस सम्बन्ध में नंदकिशोर पटेल ने बताया कि मुझे ऑनलाइन पढाई करते हुए ख़ुशी है की इस विषम परिस्थितियों में भी बच्चों से जुड़ पा रहा हूं।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post