प्रमुख सचिव डाॅ. शुक्ला ने ग्राम पडरभट्ठा, करही (धपई) तथा धपई के स्कूलों में संचालित ऑफलाईन कक्षाओं का किया निरीक्षण

 प्रमुख सचिव डाॅ. शुक्ला ने ग्राम पडरभट्ठा, करही (धपई) तथा धपई के स्कूलों में संचालित ऑफलाईन कक्षाओं का किया निरीक्षण

ईस्वर साहू- मुंगेली 16 सितम्बर 2020// कोरोना संक्रमण के चलते स्कूलों में नियमित कक्षाओं का संचालन नहीं हो पा रहा हैं। इस विश्वव्यापी संकट की घड़ी में विद्यार्थियों को अध्ययन से जोड़े रखने के उद्देश्य से राज्य सरकार ने पढ़ई तुंहर दुआर’ योजना लागू की है। जिसके अंतर्गत वेबपोर्टल में पाठ्यक्रम से संबंधित विभिन्न आडियो-विडियो व पाठ्यक्रम वेबपार्टल में अपलोड किया गया है। Oइस पोर्टल में पंजीकृत होकर विद्यार्थी लाभ ले रहें हैं। निश्चित ही शासन की यह योजना विद्यार्थियों के लिये अत्यंत लाभकारी साबित हो रही है। इस योजना के कारण विद्यार्थी आॅनलाईन क्लास में जुड़कर विषयवस्तु को आसानी से समझ पा रहे है। इस योजना को एक कदम और आगे बढ़ाते हुये स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डाॅ.आलोक शुक्ला ने आॅफलाईन कक्षा पढ़ई तुंहर दुवार , लाउडस्पीकर, मिस्डकाॅल, बुल्टू के बोल के माध्यम से जनसहयोग द्वारा अधिकाधिक विद्यार्थियों को अध्ययन से जुड़ने के अवसर प्रदान किया है। इसी परिपेक्ष्य में डाॅ. आलोक शुक्ला प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विभाग एवं डाॅ. एम.सुधीश सहायक संचालक राज्य परियोजना कार्यालय समग्र शिक्षा ने जिले के  विकासखण्डों  मुंगेली के क्रमशः ग्रांम पडरभट्टा, करही ( घपाई) व  घपई  में संचालित आॅफलाईन कक्षा का निरीक्षण किये। इस दौरान  विकासखण्ड मुंगेली के अंतर्गत ग्राम पडरभट्टा में पढ़ई तुंहर दुवार के तहत  संचालित कक्षा से किया गया। यहां प्राथमिक शाला के शिक्षकों द्वारा कटपुतली के माध्यम से बच्चों को  कोविड-19 के बचाव व सुरक्षा के संबंध मे जानकारी दिये गये । इसी तरह ग्राम करही (घपई) में संचालित प्राईमरी माॅडल स्कूल के विद्यार्थियों से प्रमुख सचिव ने अध्ययन-अध्यापन के संबंध में अंग्रेजी भाषा में वार्तालाप किये विद्यार्थियों ने डॉ शुक्ला को उसके प्रश्नों के जवाब दिये एवं साथ ही बच्चों ने अंग्रेजी की पुस्तक फर्राटेदार पढ़कर सुनाये।  इसी तरह उन्होनें ग्राम धपाई के प्राथमिक शाला मे बच्चों के बौद्धिक क्षमता का आंकलन  करते हुए जोडना, घटाना, गुणा, भाग के साथ ही कक्षा अध्यायपन एवं बच्चों में समझ विकसित होने के संबंध में जानकारी ली। इस दौरान बच्चों द्वारा विभिन्न प्रकार के माॅडल बनाये गये थे, जिन्हें देखकर प्रमुख सचिव द्वारा प्रसन्नता जाहिर की।  उन्होने कहा कि शासन कि महती योजना पढई तुहर दुवार योजना अंतर्गत आॅनलाइन कक्षाओं के संचालन, नवाचार,एवं बच्चों के बौद्धिक क्षमता के विकास के लिए मुंगेली जिले में उत्कृष्ट कार्य किया जा रहा है। उन्होने इसके लिए जिला कलेक्टर, स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारी कर्मचारी , शिक्षकों का उत्सावर्धन करते हुऐ अपनी हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर कलेक्टर श्री पी एस एल्मा, जिला शिक्षा अधिकारी श्री जी पी भारद्वाज, राजीव गांधी शिक्षा मिशन डीएमसी श्री वाचस्पति सिंह सहित शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे ।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post