धान उपार्जन केन्द्र जैमुरा एवं बसनाझर में एक करोड़ उनतीस लाख की भारी अनियमितता का उजागर, समिति प्रबंधक अध्यक्ष, उपाध्यक्ष समेत 16 व्यक्तियों पर गबन का आरोप, जाँच में गड़बड़ी पाये जाने पर इनके खिलाफ दर्ज कराई गई FIR

 धान उपार्जन केन्द्र जैमुरा एवं बसनाझर में एक करोड़ उनतीस लाख की  भारी अनियमितता का उजागर, समिति प्रबंधक अध्यक्ष, उपाध्यक्ष समेत 16 व्यक्तियों पर गबन का आरोप, जाँच में गड़बड़ी पाये जाने पर इनके खिलाफ दर्ज कराई गई FIR

मोहन नायक ,रायगढ़//  धान खरीदी केंद्रों में अकसर गड़बड़ी की खबरें आती रहती हैं मगर अधिकतर  जाँच में गड़बड़ियों को उजागर करने के बजाय पर्दा डाल दिया जाता है।लेकिन इस सबके बावजूद दो खरीदी केंद्रों की कड़ाई से जाँच की गयी जिससे सच सामने आ गयी और इन दोनों समितियों से एक करोड़ उनतीस लाख की गड़बड़ी उजागर हुआ है।      खाद्य निरीक्षक शैलेन्द्र कुमार एक्का द्वारा थाना खरसिया में दिनांक 18.08.2020 को दिए गए आवेदन अनुसार उपार्जन केन्द्र जैमुरा एवं बसनाझर के समर्थन मूल्य पर धान खरीदी में समिति प्रबंधक अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सदस्य, फड़ प्रभारी, बारदाना प्रभारी, लिपिक, लेखापाल एवं कम्प्यूटर आपरेटर द्वारा अनियमितता कर *कुल ₹1,29,89,156.80* का धान, बारदाना, शासकीय रकम का गबन करने के संबंध में दिये गये  आवेदन पत्र पर से समिति प्रबंधक प्रमोद कुमार राठौर एवं  संस्था की अध्यक्ष श्रीमति सुमति बाई, धान उपार्जन केन्द्र जैमुरा उप केन्द्र बसनाझर में संचालक समिति उपाध्यक्ष तेजराम पटेल,  उपाध्यक्ष श्रीमति मथुरा बाई सिदार, फड़ प्रभारी तथा बारदाना सुपरवाईजर भानूप्रताप डनसेना ,  डाटा एन्ट्री ऑपरेटर खगपति पटेल सदस्य हरिनंदन डनसेना , गंगेलाल साहू, बंधुराम पटेल, रामाधार बंजारे,  बुधेश्वर डनसेना,  बल्लभ  सिंह राठिया,  रामकुमार सिदार,   हलधर डनसेना पर गबन का अपराध दर्ज किया गया है  ।

      मामले में आदिम जाति सेवा सहकारी  समिति मर्यादित जैमुरा के धान उपार्जन केन्द्र जैमुरा एवं बसनाझर के जाँच एवं भौतिक सत्यापन निरीक्षण दौरान भारी अव्यवस्थाएँ, अनियमिततायें , घोर लापरवाही एवं उपार्जित धान तथा खाली बारदाना का स्कंध कमी कर गबन करना पाया गया एवं दोनो केन्द्रों के फड़ व गोदाम में शेष धान व बारदानों का अशं नही पाया गया । आरोपियों के कृत्य से धान सुरक्षा व्यय राशि 138776/रू., प्रासगिक व्यय राशि 668795.60/ रू., कमीशन की राशि 1032330 / रू., हिस्सा एवं वसुली राशि 261598/ रू. *कुल 12989156 रूपये* की शासन को आर्थिक क्षति पहुँचाई गई है । आरोपियों पर थाना खरसिया में अप.क्र. 386/2020 धारा 409, 34 IPC पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है ।इस कार्यवाही के बाद रायगढ जिले के कुछ अन्य खरीदी केंद्रों में जहाँ गड़बड़ी की शिकायतें है हड़कम्प मंच गयी है।आने वाले समय में और भी गड़बड़ी के खुलासे से इंकार नही किया जा सकता।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post