कोरोना की जंग जीतकर वापस आने पर लूकचंद देवांगन ने शासन को दिया धन्यवाद कोविड-19 हॉस्पिटल में उपचार एवं व्यवस्था की प्रशंसा की 

 कोरोना की जंग जीतकर वापस आने पर लूकचंद देवांगन ने शासन को दिया धन्यवाद कोविड-19 हॉस्पिटल में उपचार एवं व्यवस्था की प्रशंसा की 

कोरोना की जंग जीतकर वापस आने पर लूकचंद देवांगन ने शासन को दिया धन्यवाद
कोविड-19 हॉस्पिटल में उपचार एवं व्यवस्था की प्रशंसा की
राजनांदगांव 11 सितम्बर 2020।  राजनांदगांव शहर के शंकरपुर निवासी डॉ. लूकचंद देवांगन ने बताया कि शुरूआत में बुखार आने पर उन्होंने कोरोना टेस्ट कराया, जिसमें वे पॉजिटिव आए तब ऐसी विकट परिस्थिति में उन्होंने हिम्मत और हौसला बनाए रखा। उन्होंने बताया कि वे स्वयं एक डॉक्टर है और कोरोना संक्रमण के गंभीर खतरों को जानते है। उन्होंने बताया कि उन्हें शासकीय मेडिकल कॉलेज पेण्ड्री स्थित कोविड-19 हॉस्पिटल में इलाज के लिए स्वास्थ्य टीम द्वारा भर्ती किया गया। उन्होंने बताया कि इलाज के लिए कोविड-19 हॉस्पिटल में अच्छी व्यवस्था की गई थी। किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर माइक के माध्यम से डॉक्टर को बताया जाता है तथा समय रहते तत्काल उपचार कर दवाईयां उपलब्ध कराई जाती है। उन्होंने बताया कि नाश्ते में पोहा, उपमा, इटली, अंडा, दूध, केला दिया जाता है।  शासन द्वारा की गई यह व्यवस्था सराहनीय है। जिससे वे स्वस्थ होकर वापस आ गए हैं इसके लिए उन्होंने शासन को धन्यवाद दिया।
राज्य शासन द्वारा बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए अनेक उपाय किए जा रहे हैं। राज्य शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल और उपचार किया जा रहा है। जिससे जिले के कोविड-19 हॉस्पिटल से मरीज इलाज के बाद स्वस्थ होकर अपने घर आ रहे हैं। जिले के कोविड-19 हॉस्पिटल में सभी सेवाएं नि:शुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। वहीं डॉक्टर की टीम द्वारा निरंतर मरीजों की निगरानी करते हुए इलाज किया जा रहा है।

RJ रमझाझर

RJ रमझाझर

Editor In Chief

Related post