कोरबा : आई.एफ.एस. जगदीशन पर भ्रष्टाचार के लगे गंभीर आरोप, कई जांच लंबित, क्या कर रहे हैं हमारे वन मंत्री ???

 कोरबा : आई.एफ.एस. जगदीशन पर भ्रष्टाचार के लगे गंभीर आरोप, कई जांच लंबित, क्या कर रहे हैं हमारे वन मंत्री ???

आई.एफ.एस. जगदीशन पर भ्रष्टाचार के लगे गंभीर आरोप, कई जांच लंबित, क्या कर रहे हैं हमारे वन मंत्री ???

2005 बैच के आई.एफ.एस. जगदीशन के ऊपर भ्रष्टाचार के कई गंभीर आरोप लगते रहे हैं पर अपनी पहुंच और पावर से बीजेपी शासन में बचते रहे । आश्चर्य की बात हैं कांग्रेस के सत्ता में ईमानदार वन मंत्री की एंट्री हुई हैं बावजूद इसके इनके ऊपर जांच लंबित है।

ऐसा एक मामला हैं कटघोरा वनमंडल का जिसमें पदस्थ  रहते हुवे आई.एफ.एस.जगदीशन के ऊपर DFO रहते वानिकी कार्यो और समान खरीदी में 10 करोड़ के गबन का आरोप लगा हैं।

एक मजदूर के खाते में संपूर्ण राशि डालकर पैसे आहरण किया गया। शिकायतकर्ता दिनेश पांडेय, प्रदेश अध्यक्ष छत्तीसगढ़ अखिल भारतीय जन सहयोग संस्थान के द्वारा मुख्यमंत्री को सन 2018 में शिकायत और एफ आई आर दर्ज कराने हेतु लिखा गया। मुख्यमंत्री निवास से बकायदा प्रधान मुख्य वन संरक्षक को इसकी जांच के लिए पत्र भी जारी हुआ। इसके लिए मुख्य वन संरक्षक बिलासपुर को वरिष्ठ ऑफिस से पत्र जारी हुआ। इसके लिए वन मंडल कोरबा को जांच के लिए लिखा गया। पर आज तक जांच नहीं हो पाई। वन मंडल कोरबा से दर्जनों बार कटघोरा वन मंडल को दस्तावेज उपलब्ध कराने के लिए पत्र जारी हो चुका हैं पर कटघोरा वन मंडल के द्वारा जानकारी नहीं दी जा रही हैं। इसी से भ्रष्टाचार सिद्ध हो जाता हैं। आखिर इतने गंभीर आरोप के जांच होने में 3 साल कैसे लग गए ???

आई.एफ.एस. जगदीशन कैसे अपने ऊपर जांच नहीं होने दे रहे ?? बड़ा गंभीर मुद्दा हैं। पॉवर और पैसे से लगता हैं सबको खरीद लिए हैं।

चर्चा हैं कि आई.एफ.एस. जगदीशन ने रायपुर के धरमपुरा में 3-4 करोड़ का आलीशान बंगला बनवा रखा हैं। शिकायत में ये भी लिखा हैं कि तमिलनाडु के गृह जिले में भी परिजनों के नाम पर करोड़ों की संपत्ति खरीद रखी हैं। छत्तीसगढ़ से धन कमा कर तमिलनाडु लेे जा रहे हैं। माननीय वन मंत्री को ऐसे लंबित गंभीर आरोप पर तत्काल जांच करवाना चाहिए ताकि सच सबके सामने आ जाए।

रिपोर्ट-जे.पी.अग्रवाल
9179444056
7000397073

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post