अन्य पिछडा वर्ग के उत्थान के लिए संचालित योजनाओं का शत-प्रतिशत कियान्वयन सुनिश्चित किया जाए- अध्यक्ष साहू जिला मुख्यालय मुंगेली में पिछडा वर्ग के विद्यार्थियों के लिए पोस्ट मैट्रिक छात्रावास प्रारंभ करने हेतु कार्य योजना बनाने के निर्देश

 अन्य पिछडा वर्ग के उत्थान के लिए संचालित योजनाओं का शत-प्रतिशत कियान्वयन सुनिश्चित किया जाए- अध्यक्ष साहू  जिला मुख्यालय मुंगेली में पिछडा वर्ग के विद्यार्थियों के लिए पोस्ट मैट्रिक छात्रावास प्रारंभ करने हेतु कार्य योजना बनाने के निर्देश

मुंगेली //   छत्तीसगढ़ राज्य पिछडा वर्ग आयोग के अध्यक्ष  थानेश्वर साहू ने आज जिला कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभा कक्ष में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक लेकर अन्य पिछडा वर्ग के किसानों, शिक्षित बेरोजगारों और छात्र-छात्राओं के लिए संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों की विस्तारपूर्वक समीक्षा की। बैठक में उन्होने कहा कि अन्य पिछडा वर्ग के लोगों के विकास के लिए अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। उन्होने संचालित योजनाओं का शत-प्रतिशत कियान्वयन सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होने अन्य पिछडा वर्ग के लिए क्रीमीलेयर के मापदंडो के बारे में कहा कि समय-समय पर भारत सरकार द्वारा क्रीमीलेयर की आय सीमा में वृद्धि करने के फलस्वरूप राज्य शासन द्वारा मापदंडो में संशोधन किया गया है। उन्होने संशोधित मापदंडो के अनुरूप आय प्रमाण पत्र जारी करने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होने कहा कि मुंगेली जिले में अन्य पिछडा वर्ग के लोग भी बडी संख्या में निवास करते है। अन्य पिछडा वर्ग के लोगों द्वारा दो सौ सीटर पोस्ट मैट्रिक छात्रावास मांग की गई है। इसे देखते हुए उन्होने जिला मुख्यालय मुंगेली में दो सीटर पोस्ट मैट्रिक छात्रावास संचालन हेतु कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये। बैठक में उन्होने पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, महिला एवं बाल विकास, वन, शिक्षा, आदिम जाति कल्याण, पशु पालन, समाज कल्याण, श्रम विभाग, के्रडा, कृषि, जिला व्यापार एवं उद्योग, अंत्यावसायी सहकारी विकास निगम सहित अन्य विभागों द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के नेतृत्व में सभी वर्गो के विकास के साथ-साथ अन्य पिछडा वर्ग के विकास को भी प्राथमिकता दी गई है। योजनाओं का बेहतर और उत्कृष्ट कियान्वयन कर अन्य पिछडा वर्ग के अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति तक योजना का लाभ पहुॅचाने के निर्देश दिये। ताकि वह व्यक्ति भी विकास में सहभागी बन सके और यही राज्य सरकार का लक्ष्य है।

बैठक में अध्यक्ष  साहू ने कहा कि योजनाओं की जानकारी के अभाव में ग्रामीण लोग योजनाओं से लाभान्वित नही हो पाते। अतः उन्होने संचालित योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्य पालन अधिकारी  रोहित ब्यास ने जिले में संचालित राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना गोधन न्याय योजना, पौनी-पसारी योजना, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, लोक सेवाओं तथा शैक्षणित संस्थाओं में प्रवेश के लिए पिछडा वर्ग के लिए आरक्षण आदि योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। अध्यक्ष   साहू ने जिले में योजनाओं के कियान्वयन पर अपनी संतुष्टि व्यक्त करते हुए कार्यो की सराहना की । इसके पूर्व जिला पंचायत के मुख्य कार्य पालन अधिकारी   ब्यास ने राज्य पिछडा वर्ग आयोग के अध्यक्ष  साहू को गुलदस्ता भेंट कर उनका आत्मीय स्वागत किया। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष  लेखनी सोनू चंद्राकर, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष एवं शिक्षा स्थाई समिति के सभापति  संजीत बनर्जी, प्रतिष्ठित नागरिक सागर सिंह बैस, संयुक्त कलेक्टर तीर्थराज अग्रवाल, अपर कलेक्टर राजेश नशीने, प्रतिष्ठित नागरिक स्वतंत्र मिश्रा, लोक राम साहू, ललिता सोनी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

rj ramjhajhar

rj ramjhajhar

Related post